मौत

Death Boat

मौत की तलाश में,
एक मौत की तलाश में,
यूं घूमता रहा हुँ मैं,
बस झूमता रहा हुँ मैं|

कटार से, मशाल से,
उधेड़ो मुझको खाल से,
मौत घुँट पीने दो,
मुझे आज मौत जीने दो|

कब्र की दर्गाह से,
श्मशान के जहाँ में,
आज मुझको खींच लो,
मुझे आज मौत जीने दो|

मैं शेर की दहाड हूँ,
मैं हार का प्रहार हूँ,
जो मृत्युदान मिल गया,
मैं भव-सागर पार हूँ|

अब रोक ना मुझ ही को तू,
अब टोक ना मुझ ही को तू,
क्योंकि मौत की तलाश में,
यूं घूमता रहा हूँ मैं,
बस झूमता रहा हूँ मैं||

Advertisements

Say Something About This Post

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s